Registry क्या है? Windows registry (Basics)

Registry क्या है? Windows registry (Basics)
Registry क्या है? Windows registry (Basics)

हेल्लो दोस्तों, अगर आप computer इस्तेमाल करते हैं और आपने windows इस्तेमाल किया है तो आपने registry के बारे में तो जरूर सुना होगा... यह windows का एक जरूरी हिस्सा होती है। हमारे computer में इनस्टॉल होने वाले कई सारे सॉफ्टवेयर इसपर depend होते हैं... लेकिन अगर आप नहीं जानते की यह क्या है और कैसे काम करती है तो आपको इसके बारे में जानना चाहिए क्यूंकि जैसा की में आपको बता चूका हूँ की यह windows का एक जरूरी हिस्सा होती है और साथ ही आपकी नॉलेज भी बढेगी... इस पोस्ट में हम इसी बारे में बात करेंगे की Registry क्या है? इसके क्या uses है और यह कैसे काम करती है तो बिना समय गबाये आइये जानते हैं इन सभी चीजों के बारे में।




Windows में Registry क्या है?

Registry kya hai
Registry kya hai

दोस्तों, अगर आपने windows में या किसी भी operating systems में software इस्तेमाल किये है तो आप यह तो जानते ही होंगे की उन सभी सॉफ्टवेयर का भी कुछ जरूरी डाटा होता है और उस जरूरी डाटा को कहीं ना कहीं सेव करने की जरूरत होती है... जैसे की सेटिंग्स कई सारे सॉफ्टवेयर की खुद की अपनी सेटिंग्स होती है कुछ themes होती हैं कुछ इमेज resources होते हैं और कुछ जरूरी location और path addresses होते हैं, सॉफ्टवेयर का वर्शन होता है और भी बहुत तरह की जानकारी होती है जिसकी जरूरत एक सॉफ्टवेयर को जरूरत होती है किसी भी सॉफ्टवेयर की ऐसी ही कुछ जानकारी या जानकारी के एड्रेस और reference जहाँ रखे जाते हैं उस जगह को हम windows में registry के नाम से जानते हैं यह जगह एक Database होता है जिसमे tree structure में सारा डाटा रखा होता है यानी एक फोल्डर के अंदर दूसरा फोल्डर बिलकुल वैसे ही जैसे हमारे फाइल मेनेजर में। windows की default settings और references इसी Database में रखे जाते हैं इसके अलावा Operating system से related इनफार्मेशन और Hardware से related इनफार्मेशन भी इसी Database में रखी जाती है।

Registry एक समूह होता है कुछ फ़ोल्डर्स का जिन्हें हम root key या hive names भी कहते हैं अलग-अलग तरह का फोल्डर अलग तरह की इनफार्मेशन रखने के लिए बनाया जाता है उदहारण के लिए अगर operating system को फाइल की एक्सटेंशन के बारे में और सॉफ्टवेयर की सेटिंग्स के बारे में जानकारी रखनी है तो दोनों अलग-अलग फोल्डर में रखा जाएगा। registry को हम Read भी कर सकते है और जरूरत पड़ने पर write भी कर सकते हैं। अपने शुरूआती दौर में Windows, System Information रखने के लिए .ini यानी System Information फाइल का इस्तेमाल करता था लेकिन ये अच्छा तरीका नहीं था इसलिए अब registry को इस्तेमाल किया जाता है हालाँकि .ini फाइल्स का इस्तेमाल आज भी अलग-अलग कामो के लिए किया जाता है।





Registry Editor क्या है?

Registry editor windows में एक ऐसा tool है जिसका इस्तेमाल system में stored सारी registries को एडिट करने के लिए किया जाता है। इसका इस्तेमाल करके हम registry को आसानी से एडिट कर सकते हैं लेकिन इसके बारे में बिना ठीक से जाने इसका इस्तेमाल करने से काफी problems हो सकती है यहाँ तक की आपका System क्रेश भी हो सकता है इसलिए अगर आपको computer के बारे में बहुत कम जानकारी है तो आपको इसका इस्तेमाल नहीं करना चाहिए.. लेकिन अगर आपको computer के बारे में थोड़ी बहुत जानकारी पहले से है और Registry editor का इस्तेमाल करके देखना चाहते हैं तो आप निचे दिए गए स्टेप्स फॉलो कर सकते हैं।

Registry editor kya hai
Registry editor kya hai


Registry कैसे Edit करें?

Registry को एडिट कैसे करते हैं यह जानने के लिए हम अपने computer की OEM information में Manufacturer का नाम change करेंगे आप भी इसे Follow कर सकते हैं यह बहुत ही आसान है कुछ इस तरह -
टॉप 10 बेस्ट फ्री Android Game 2018 हिंदी

स्टेप #1. सबसे पहले Windows key + r दबाकर Run डायलॉग ओपन करें।

स्टेप #2. अब Run डायलॉग में "regedit" (बिना डबल quote के) टाइप करके enter दबाये।

स्टेप #3. अब आपके सामने registry editor खुल जाएगा।

स्टेप #4. अब registry editor में सबसे पहले HKEY_LOCAL_MACHINE में तीर के निसान पर क्लिक करें अब आपके सामने और भी फ़ोल्डर्स खुलेंगे जिनमे से आपको SOFTWARE को ओपन करना है (इसी तरह)।

स्टेप #5. अब SOFTWARE के अंदर Microsoft नाम का फोल्डर ओपन करना है जिसके अंदर Windows और Windows के अंदर CurrentVersion ओपन करना है।

स्टेप #6. अब इसके अंदर आपको OEM इनफार्मेशन नाम का फोल्डर दिखेगा जिसपर आपको डबल क्लिक करना है।

स्टेप #7. अब राईट साइड में कुछ फाइल्स दिखाई देंगी जिनमे आपको Manufacturer नाम की फाइल ढूंढनी है और अगर नहीं है तो आपको इसी Window में राईट क्लिक करना है और उसके बाद मेनू में New पर जाकर String value पर क्लिक करना है।

स्टेप #8. अब Value name में आपको Manufacturer भरना है और Value data में कुछ भी नाम लिखना है अगर उसमे। और अगर Manufacturer की फाइल पहले से ही उपलब्ध है तो उसपर राईट क्लिक करके Modify पर क्लिक करके value change कर दें।

स्टेप #9. अब registry को क्लोज करके This PC या My Computer की प्रॉपर्टीज में System वाले सेक्शन में Manufacturer पर एक नज़र डालें उसके आगे आपका लिखा हुआ नाम दिख रहा है।

अगर आपको यह बापस पहले जैसा करना है या हटाना है तो आप फिर से यही स्टेप्स फॉलो करके पहले वाला name भर सकते हैं या Manufacturer नाम की value को डिलीट कर सकते हैं।

इसी तरह से आप Registry values को Create और delete कर सकते हैं इसके अलावा आप Registry भी create कर सकते हैं और custom values भी लेकिन उसका कोई फायदा नहीं होगा क्यूंकि Windows आपके द्वारा बनायीं गयी registry को नहीं जानता है हम केवल registry को एडिट कर सकते हैं और वह भी तब जब उसकी जरूरत हो।







Registry Root keys or hive names

Windows registry में 5 अलग-अलग root keys होती है जिनका काम अलग-अलग होता है। यह इस tree में तानो का काम करती है अगर इनके बारे में बिस्तार से जाने तो ये कुछ इस तरह होते हैं।

#1. HKEY_CLASSES_ROOT - इस key के पास Files के types और उनकी extensions के बारे में सारी information होती है और यह भी की कोनसा सॉफ्टवेयर किस तरह की फाइल्स को ओपन करेगा।

#2. HKEY_CURRENT_USER - इसके अंदर अभी आप जिस भी यूजर अकाउंट से logged in हैं उसके बारे में सारी जानकारी और सेटिंग्स रहती है।

#3. HKEY_LOCAL_MACHINE - यह registry का सबसे important एरिया है इसके अंदर computer की सारे जानकारी, computer की सेटिंग्स, computer के यूजर अकाउंट की इनफार्मेशन, computer के हार्डवेयर की इनफार्मेशन आदि सभी चीज़े रहती हैं।

#4. HKEY_USERS - यहाँ पर आपके computer में उपलब्ध सभी यूजर एकाउंट्स और उनकी सेटिंग्स और जानकारी राखी जाती है।

#5. HKEY_CURRENT_CONFIG - इसके अंदर connected हार्डवेयर और devices से related सारी जानकारी रखही जाती है।


दोस्तों, इस लेख में हमने बात की Registry क्या है? Windows registry Hindi के बारे में। हमें पूरी उम्मीद है की आपको हमारे द्वारा लिखा गया यह लेख पसंद आया होगा और Windows में Registry क्या है इस बारे में काफी चीज़े सिखने को मिली होंगी। इस लेख को लिखने के लिए हमने काफी जगहों से जानकारी इकट्ठा की लेकिन फिर भी इसमें हमसे कोई जानकारी छूट गयी है या कुछ गलत हुआ है तो निचे कमेंट करके जरूर बताएं। और अगर आपको लगता है की इसमें कुछ ऐसी जानकारी भी है जो आपके दोस्तों के काम आ सकती है तो इसको उनके साथ भी जरूर शेयर करें जिससे उन्हें भी कुछ जानने को मिले। और इसी तरह की और भी जानकारी पाने की लिए हमें सोशल मीडिया पर भी जरूर follow करें।

इसके अलावा अगर आप किसी तरह की जरूरी जानकारी भेजना चाहते हैं तो हमारे contact us page पर जाएं।

👉 अगर आप कंप्यूटर के बारे में और भी जानना चाहते है तो आप इन सारी posts को एक बार जरूर देखें मुझे उम्मीद है की आपको इनसे काफी कुछ जानने को मिलेगा।

इस पेज का PRINT या PDF DOWNLOAD करने के लिए यहाँ क्लिक करें 👉  

Tag - registery क्या है?,  Windows registry kya hai, Computer registery in Hindi, What is registery in computer, windows me registery ke use, computer basics

कोई टिप्पणी नहीं