Encryption क्या है? Encryption और Decryption हिंदी

Encryption क्या है
Encryption क्या है? Encryption और Decryption हिंदी
हेल्लो दोस्तों, अगर आप computer इस्तेमाल करते हैं तो आपने Encryption के बारे में तो सुना ही होगा या अगर आप एक Smartphone इस्तेमाल करते हैं तो आप इसके बारे में कही न कही तो सुना ही होगा, यह Digitalization और Technology का एक बहुत ही जरूरी हिस्सा है खासकर Internet की दुनिया में, जिसके बारे में आपको थोडा बहुत तो पता होना ही चाहिए क्यूंकि हम technology से चारो तरफ से घिर चुके है... तो अगर आप इसके बारे में जानना चाहते हैं तो इस पोस्ट को पड़ते रहिये क्यूंकि इसमें हम इसी बारे में बात करेंगे की Encryption और Decryption क्या है, Encryption कैसे काम करता है और साथ ही साथ हम यह भी जानेंगे की यह इतना जरूरी क्यूँ है.. तो बिना समय गबाये आइये बड़ते हैं इन सभी सवालों की तरफ।




Encryption क्या है?

दोस्तों, जबसे इन्टरनेट आया है तब से Encryption भी दिन व दिन पोपुलर और जरूरी होता जा रहा है क्यूंकि इन्टरनेट पर बहुत ज्यादा डाटा है लेकिन इसका सम्बन्ध केवल इन्टरनेट से नहीं है इसका सम्बन्ध हमारे डाटा से है जो हमारे लिए बहुत जरूरी है.. हम इन्टरनेट पर, अपने मोबाइल में अपने computer में या एक छोटे से memory कार्ड में अपना कितना जरूरी और सेंसिटिव डाटा और इनफार्मेशन रखते हैं लेकिन इस सारे डाटा को हमें सिक्योर बनाने और हर किसी के हाथो लगने से बचाने के लिए हम एक ख़ास तकनीक को काम में लेते हैं जिसे हम Encryption कहते हैं। और इस तकनीक को काम में लेने की प्रोसेस को Encryption कहा जाता है।

Data को सिक्योर बनाना या Encrypt करना कोई नयी बात नहीं है हालाँकि इन्टरनेट पर तो इसका उपयोग हर जगह किया ही जाता है आपने internet से related एक और term सुना होगा "Cyber security" यह भी काफी हद तक इन्टरनेट पर encryption से ही related है। इन्टरनेट के जरिये आप जो भी Message या Email भेजते हैं वह भी Encrypt हो कर ही जाते हैं ताकि बीच में उन्हें कोई पड़ ना सके। इन्टरनेट पर आप जितनी भी जगह Payment के लिए अपने बैंक इनफार्मेशन डालते हैं वह सभी सर्वर पर सिक्योर होकर ही जाता है।


Encryption के लिए उदहारण:- 


what is encryption with example
what is encryption with example
आपने WhatsApp पर chat करते समय सबसे ऊपर लिखा हुआ sentence तो पड़ा ही होगा जिसमे लिखा हुआ होता है की "Message to this chat and calls are now secured with end-to-end encryption" यानी आप इस chat में जो भी मेसेज भेज या Receive कर रहे हैं वो अब end-to-end encryption (जो की एक Encryption तकनीक है) के साथ सिक्योर रहेंगे.. यानी WhatsApp के जरिये आप किसी को भी मेसेज भेजते हैं तो सबसे पहले उस मेसेज को एक विशेष Encryption तकनीक के द्वारा सिक्योर किया जाता है ताकि अगर बीच में कोई हैकर भी उस मेसेज को रिसीव करके पड़ने की कोसिस करे तो ना पड़ पाए यह मेसेज सीधे रिसीवर के पास जाकर ही Decrypt होता है।

 WhatsApp Encryption Example
WhatsApp Encryption Example


अब अगर इन्टरनेट के अलावा Encryption की बात करें तो यदि आप अपना जरूरी डाटा अपनी pendrive या hard disk में ही रखते हैं और अगर वह hard disk या वह pendrive चोरी हो जाए तो आपके तो आपका सारा डाटा चला जाएगा और किसी और के हाथ लग जाएगा लेकिन इन सभी से बचने के लिए भी हम Encryption का इस्तेमाल करते हैं यह कई फॉर्म्स में उपलब्ध है जैसे default पासवर्ड, Bitlocker आदि।




पोपुलर Encryption Standards

Encryption को अलग-अलग तरीको से करने के लिए अलग-अलग Standards को काम में लिया जाता है इन्ही अलग-अलग Standards को कई जगहों पर Scurity Algorithms भी कहा जाता है, इनसे अलग-अलग जगहों पर अलग-अलग तरह की security को काम में लिया जा सके। किस जगह कोन सा standard काम में लेना है यह बात standard की Efficiency और हमारी जरूरत पर depend करती है अगर कुछ पोपुलर Encryption standards की बात करें तो ये कुछ इस प्रकार है -




AES

इसका full form होता है Advanced Encryption Standard, यह Data को Encrypt करने के लिए तीन keys को काम में लेता है 128 bit, 192 bit और 256 bit जिनमे से आप किसी भी तरीका का इस्तेमाल कर सकते हैं यह तीन अलग-अलग security लेयर provide करते हैं जिनमे 256 bit सबसे ज्यादा सिक्योर होता है। AES standard से डाटा को Encrypt या Decrypt करने के लिए Security key को काम में लिया जाता है।

3DES

3DES का मतलब है Triple Data Encryption Standard, यह डाटा को Encrypt करने के लिए केवल 56 bit Encryption key का इस्तेमाल करता है लेकिन इसकी ख़ास बात यह है की यह डाटा को तीन बार Encrypt करता है यानी 56 bit key को तीन बार काम में लिया जाता है।


RSA

RSA का नाम इनके Creators के नाम पर रखा गया है इसे तीन लोगो Ron Rivest, Adi Shamir और Len Adelman ने मिलकर बने था जिनके surnames के पहले अक्षर मिलकर RSA बनाते हैं, RSA एक बहुत सिक्योर Algorithm है क्यूंकि यह बहुत ही बड़े साइज़ की encryption key इस्तेमाल करता है यह 1024 bit और 2048 bit की keys इस्तेमाल करता है इसके अलावा Decrypt करने के लिए भी इसके द्वारा दो keys Generate किये जाते हैं जिनमे एक public key होता है और दूसरा private key, public key का इस्तेमाल करके डाटा को डिक्रिप्ट तो किया जा सकता है लेकिन सिर्फ readable फॉर्म में यानी मॉडिफाई करने के लिए आपको private key का इस्तेमाल करना पड़ेगा।


Decryption क्या है?

दोस्तों जैसा की आप नाम से ही समझ पा रहे होंगे यह Encryption की प्रोसेस को उल्टा करने की प्रोसेस है जिसका इस्तेमाल हम Encrypted डाटा को बापस उसकी असली फॉर्म में लाते हैं। इसके बारे में हमने अभी ऊपर के उदहारण में ही बात की है।

मान लीजिये एक बहुत ही जरूरी फाइल है जिसे आप इन्टरनेट के जरिये अपने दोस्त के पास भेजना चाहते हैं इसके लिए आपने वह फाइल एन्क्रिप्ट की है ताकि बीच में उसे कोई हैक करने के बाद भी पड़ ना पाए इसके बाद वह आप अपने दोस्त के पास भेजते हैं लेकिन अगर वह फाइल फिर भी एन्क्रिप्ट है तो जाहिर सी बात है उस फाइल को आपका दोस्त भी नहीं पड़ पाएगा इसी चीज़ के लिए हमें Encryption को बापस हटाना पड़ता है और इसी प्रोसेस को हम decryption कहते हैं फाइल को डिक्रिप्ट करने के कई सारे आप्शन हो सकते हैं जैसे किसी प्रकार की key या smartcard का डाटा या फिर एक Password जो आजकल सबसे ज्यादा पोपुलर है।


Encryption कैसे काम करता है?

अलग-अलग तरह के Algorithms डाटा को अलग-अलग तरह से Encrypt करते हैं यानी अलग-अलग Algorithm का Encryption अलग-अलग तरह से काम करता है लेकिन फिर भी अगर एक basic जानकारी के लिए जाने तो.. Encryption के द्वारान हमारा सारा डाटा एक ऐसी फॉर्म में कन्वर्ट हो जाता है जिसे इंसानों द्वारा नहीं पड़ा जा सकता use केवल मशीन यानि computer के द्वारा ही पड़ा जा सकता है और बो भी एक Specific key देने पर यह सारी प्रोसेस bit लेवल पर होती है यानी Encryption करते समय डाटा को बाइनरी फॉर्म में कन्वर्ट करके उसमे थोडा फेर बदल कर दिया जाता है और यह कुछ इस तरह किया जाता है की इसे एक स्पेशल key डालने पर बापस से रिवर्स किया जा सके।




Encryption से related कुछ अन्य topics - 





दोस्तों, इस लेख में हमने बात की Command Prompt क्या है? CMD in Hindi के बारे में। हमें पूरी उम्मीद है की आपको हमारे द्वारा लिखा गया यह लेख पसंद आया होगा और Windows में Command Prompt क्या है इस बारे में काफी चीज़े सिखने को मिली होंगी। इस लेख को लिखने के लिए हमने काफी जगहों से जानकारी इकट्ठा की लेकिन फिर भी इसमें हमसे कोई जानकारी छूट गयी है या कुछ गलत हुआ है तो निचे कमेंट करके जरूर बताएं। और अगर आपको लगता है की इसमें कुछ ऐसी जानकारी भी है जो आपके दोस्तों के काम आ सकती है तो इसको उनके साथ भी जरूर शेयर करें जिससे उन्हें भी कुछ जानने को मिले। और इसी तरह की और भी जानकारी पाने की लिए हमें सोशल मीडिया पर भी जरूर follow करें।

इसके अलावा अगर आप किसी तरह की जरूरी जानकारी भेजना चाहते हैं तो हमारे contact us page पर जाएं।

👉 अगर आप कंप्यूटर के बारे में और भी जानना चाहते है तो आप इन सारी posts को एक बार जरूर देखें मुझे उम्मीद है की आपको इनसे काफी कुछ जानने को मिलेगा।

इस पेज का PRINT या PDF DOWNLOAD करने के लिए यहाँ क्लिक करें 👉  

Tag: - Encryption क्या है?,  Decryption क्या है?

कोई टिप्पणी नहीं