Cache मेमोरी क्या है? Cache vs RAM

Cache मेमोरी क्या है? Cache vs RAM
Cache मेमोरी क्या है? Cache vs RAM
हेल्लो दोस्तों, अगर आप कंप्यूटर यूजर हैं और आप कंप्यूटर के बारे में थोडा बहुत जानते हैं तो आपने Cache मेमोरी के बारे में तो जरूर सुन रखा होगा यह CPU का एक हिस्सा होती है जिसका इस्तेमाल हर कंप्यूटर में होता है अगर आप नहीं जानते हैं और जानना चाहते हैं की यह क्या होती है तो आप बिलकुल सही जगह आएं हैं क्यूंकि इस पोस्ट में हम इसी बारे में बात करेंगे की Cache मेमोरी क्या है? और इसका इस्तेमाल कहाँ और कैसे किया जाता है साथ ही हम यह भी जानेंगे की Cache memory और RAM में क्या अन्तर है तो बिना समय गवाए आइये बड़ते है इन सभी सवालों के जवाबो की तरफ।




Cache मेमोरी क्या है?


सबसे पहले आपको confusion ना हो इसके लिए बता दूं की यहाँ पर हम Cache मेमोरी यानी CPU के कैश के बारे में बात कर रहे है Disk caching के बारे में नहीं, ज्यादातर लोग इसको लेकर काफी confuse होते हैं लेकिन इन दोनों में बहुत अंतर है जिसके बारे में हम आगे बात करेंगे लेकिन फिलहाल हम बात करेंगे CPU cache मेमोरी के बारे में। CPU Cache मेमोरी प्राइमरी भी हो सकती है और सेकंड्री भी लेकिन अभी हम Primary Cache के बारे में बात करेंगे जो कंप्यूटर में CPU यानी microprocessor के अंदर होती है इसका इस्तेमाल CPU ऐसे Programs और Instructions को रखने के लिए करता है जिनकी जरूरत उसे तुरंत पड़ने वाली होती है और बार बार पड़ती रहती है।

Cache मेमोरी एक Volatile मेमोरी है जो बार बार बदलती राहती है यानी इसमें रखा Data Run हो रहे सॉफ्टवेयर के अनुसार बदलता रहता है और Power जाने पर इसमें भी RAM की तरह कोई Data नहीं रहता। यह CPU के अंदर ही होती है और साथ ही साथ यह बहुत फ़ास्ट भी होती है लेकिन हमारे कंप्यूटर में ये बहुत ही कम कैपसिटी में होती है क्यूंकि यह बाकी Memories के मुकावले सबसे महेंगी होती है।

Computer Science में Cache का मतलब Data स्टोर करने की एक ऐसी technique से है जिसके द्वारा Data को जल्दी से High स्पीड पर access किया जा सके। Cache मेमोरी RAM और CPU के बीच Bridge का काम करती है ताकि किसी भी तरह के Data की latency को कम किया जा सके।

Disk caching क्या है?

Disk cache का मतलब होता है RAM cache, RAM में भी File caching के लिए थोडा स्पेस होता है जिसमे वह वे सभी files रखता है जिनकी जरूरत बार बार पड़ती ही रहती है लेकिन RAM cache या Disk कैश CPU cache जितने काम का नहीं होता क्यूंकि यह RAM में ही होता है और इसे CPU द्वारा एक्सेस करने में RAM एक्सेस करने जितना ही टाइम लगता है।

Cache दो तरह के होते हैं सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर अभी हमने हार्डवेयर Level cache के बारे में बात की अब हम सॉफ्टवेयर level कैश के बारे में जानेंगे। यहाँ पर सॉफ्टवेयर कैश का मतलब है की जब भी सॉफ्टवेयर को किसी स्पेशल file की जरूरत बार बार होती है जिसे उसे इन्टरनेट के जरिये डाउनलोड करना होता है या किसी ऐसी file जिसके customized वर्शन की बार बार जरूरत पड़ती है तो ऐसी Files को सॉफ्टवेयर एक अलग फोल्डर बनाकर उसमे कॉपी कर देता है जिससे उसे बार बार कस्टमाइज करने की या डाउनलोड करने की जरूरत ना पड़े इसे कहते हैं सॉफ्टवेयर कैशिंग।




सॉफ्टवेयर कैशिंग के लिए हर operating system एक अलग folder देता है जिसे हम temp या cache के नाम से जानते है।

Cache के फायदे?

आप काफी हद् तक समझ ही गए होंगे की कैश मेमोरी के बहुत ही ज्यादा फायदे हैं चाहे वह सॉफ्टवेयर Cache हो या CPU की cache मेंमोरी यह कई सारे कामो को reduce करते हैं जिससे हमारा device काफी फ़ास्ट काम कर सके काम को reduce करने के साथ-साथ ये बहुत ही फ़ास्ट काम करते हैं और Data को जल्दी-जल्दी एक्सेस करने में कंप्यूटर की मदद करते हैं।

हार्डवेयर Level कैश की बात करें तो यह आजकल हर device में देखने को मिल जाती है लेकिन इसका साइज़ सबमे अलग-अलग होता है और अगर सॉफ्टवेयर level कैश की बात करें तो यह हमारे सॉफ्टवेयर के ऊपर depend करता है।

Cache मेमोरी कैसे काम करती है?

Cache मेमोरी कैसे काम करती है?
Cache मेमोरी कैसे काम करती है?


हार्डवेयर में -


Hardware यानी CPU Cache की बात करें तो यह CPU के अंदर ही होता है इसलिए CPU से यह बहुत ही फ़ास्ट Communicate कर सकता है साथ ही साथ इसकी स्पीड भी बाकी सभी स्टोरेज devices से काफी फ़ास्ट होती है। जैसा की आप सभी जानते ही हैं की जब भी हम किसी सॉफ्टवेयर को रन करते हैं तो उससे रिलेटेड resources जिनकी जरूरत होती है सबसे पहले RAM में कॉपी होते है उसके बाद एक Queue की तरह एक के बाद एक CPU सारे इंस्ट्रक्शन को प्रोसेस करता रहता है लेकिन कुछ प्रोग्राम्स ऐसे भी होते हैं जिनके  कई instructions एक depend होते हैं या जिन्हें बार बार execute करने की जरूरत होती है तो ऐसे Resources को CPU पहचान कर कैश में कॉपी कर लेता है ताकि उन्हें बार बार RAM से कॉपी ना करना पड़े ऐसा ही RAM यानी DISK कैश में भी होता है ताकि RAM में सारा Data बापस Hard Disk से कॉपी ना करना पड़े।

सॉफ्टवेयर में -


अगर किसी भी सॉफ्टवेयर को कोई एक file बार बार डाउनलोड करनी पड़ रही है या किसी File को बार बार एक जैसा मॉडिफाई करना पड़ रहा है तो वह सॉफ्टवेयर उस File को डाउनलोड या मॉडिफाई करके Hard disk में किसी Temporary cache folder में रख लेता है जिससे उसे same task बार बार repeat करने की जरूरत नहीं होती और सॉफ्टवेयर काफी फ़ास्ट रन होता है इसका बहुत ही बड़ा उदहारण है मोबाइल की गैलरी app जिसमे हमें हमारे Photos के छोटे छोटे thumbnail भी देखने को मिलते है। Gallery App इन सभी Photos को छोटे करके एक कैश folder में रख लेता है जिससे उसे बार बार उन्हें छोटा करने की जरूरत ना पड़े।

Cache Memory में Levels


CPU cache मेमोरी को अलग-अलग Levels में बाटा गया है जन्हें स्टोरेज और स्पीड के हिसाब से अलग-अलग किया गया है।

Level 1 Cache (L1)






Level 1 Cache CPU में सबसे करीबी Cache मेमोरी होता है यह साइज़ में काफी छोटी होती है लेकिन सबसे फ़ास्ट स्पीड वाली होती है इसका साइज़ KB में मापां जाता है।

Level 2 Cache (L2)

L2 cache L1 से ज्यादा Capacity तो रखती है लेकिन L1 के जितनी फ़ास्ट नहीं होती L2 Cache यातो CPU में ही रहती है या फिर Co processor में रहती है यह L1 cache से डायरेक्ट कम्यूनिकेट करती है।

Level 3 Cache (L3)


L3 Cache यानी Level 3 Cache मेमोरी साइज़ में सबसे बडी लेकिन स्पीड में सबसे स्लो होती है, फिर भी इसकी स्पीड RAM से दोगुनी होती है अगर आपने कभी प्रोसेसर ख़रीदा है या किसी CPU के specs देखे हैं तो आपने Notice जरूर किया होगा की उसपर Level 3 कैश मेमोरी का size लिखा होता है इसका साइज़ MB में मापां जाता है।

Cache memory (CPU cache) और RAM में अन्तर?


 Cache मेमोरी
 RAM मेमोरी
 यह RAM के मुकावले काफी फ़ास्ट होती है
 यह Cache के मुकावले Slow होती है
 यह CPU के अंदर यानी प्रोसेसर में होती है
  इसे Motherboard में लगाया जाता है
 Cache मेमोरी RAM के मुकावले काफी मेहेंगी होती है
 RAM cache के मुकावले काफी सस्ती होती है
Cache का Size काफी कम होता है
  RAM का साइज़ Cache के मुकावले काफी ज्यादा होता है
Cache मेमोरी में अलग-अलग level होते हैं
 RAM मेमोरी में कोई Level नहीं होते
 Cache का इस्तेमाल कंप्यूटर की स्पीड को बढाने के लिए किया जाता है
  RAM कंप्यूटर में एक जरूरी चीज़ है


दोस्तों, इस लेख में हमने बात की Cache मेमोरी और इसके uses के बारे में। हमें पूरी उम्मीद है की आपको हमारे द्वारा लिखा गया यह लेख पसंद आया होगा और Cache मेमोरी क्या है? इस बारे में काफी चीज़े सिखने को मिली होंगी। इस लेख को लिखने के लिए हमने काफी जगहों से जानकारी इकट्ठा की लेकिन फिर भी इसमें हमसे कोई जानकारी छूट गयी है या कुछ गलत हुआ है तो निचे कमेंट करके जरूर बताएं। और अगर आपको लगता है की इसमें कुछ ऐसी जानकारी भी है जो आपके दोस्तों के काम आ सकती है तो इसको उनके साथ भी जरूर शेयर करें जिससे उन्हें भी कुछ जानने को मिले। और इसी तरह की और भी जानकारी पाने की लिए हमें सोशल मीडिया पर भी जरूर follow करें।

इसके अलावा अगर आप किसी तरह की जरूरी जानकारी भेजना चाहते हैं तो हमारे contact us page पर जाएं।

👉 अगर आप कंप्यूटर के बारे में और भी जानना चाहते है तो आप इन सारी posts को एक बार जरूर देखें मुझे उम्मीद है की आपको इनसे काफी कुछ जानने को मिलेगा।

इस पेज का PRINT या PDF DOWNLOAD करने के लिए यहाँ क्लिक करें 👉  

Tag - Cache मेमोरी क्या है? ,  Cache memory kya hai, Cache memory in Hindi, Cache memory vs RAM, Cache in computer

कोई टिप्पणी नहीं