API क्या है? API in Hindi

API क्या है? API in Hindi
API क्या है? API in Hindi

हेल्लो दोस्तों, अगर आप प्रोग्रामिंग सीख रहे हैं या कंप्यूटर और प्रोग्रामिंग से रिलेटेड technology के बारे में सीख रहे हैं तो आपने API के बारे में तो जरूर सुना होगा कंप्यूटर प्रोग्रामिंग में यह एक सिंपल और बेसिक term है जिसको लेकर beginners काफी कंफ्यूज होते हैं और समझ नहीं पाते लेकिन इसके बारे में ठीक से पता ना हो तो हम इसका ठीक से इस्तेमाल भी नहीं कर सकते इसलिए एक बार इसके बारे में जरूर जान लेना चाहिए। तो अगर आप इसके बारे में जानना चाहते हैं की API क्या है और इसके क्या क्या उपयोग है तो इस पोस्ट को आगे पड़ते रहिये क्यूंकि इसमें हम इसी बारे में बात करेंगे की यह क्या होता है और इसका इस्तेमाल कहाँ कहाँ किया जाता है तो बिना समय गबाये आइये जानते हाँ इसके बारे में।




API क्या है? What is an API

API kya hai
API kya hai

दोस्तों, API का फुल फॉर्म होता है Application Programming Interface इसका नाम देखकर आप समझ ही गए होंगे की इसका सम्बन्ध पूरी तरह से कंप्यूटर प्रोग्रामिंग से है। API भी एक प्रोग्राम होता है जो दो एप्लीकेशन को एक साथ काम करने के लिए आपस में कनेक्ट करता है। API एक Set of code होता है यह set of code किसी विशेष काम के लिए होता है।



अगर साधारण भाषा में समझें तो API दो सॉफ्टवेयर को आपस में जोड़ने का काम करता है जिससे की वे आपस में बात कर सकें, उदहारण के तौर पर आपने किसी वेबसाइट या App पर sign in with google या sign in with Facebook का बटन तो जरूर देखा होगा वह वेबसाइट गूगल या Facebook के sign in बटन को API के जरिये ही काम में ले पा रहे हैं। अगर हमें किसी दूसरी एप्लीकेशन का data और फंक्शन अपनी app में इस्तेमाल करने हैं तो हमें उसकी API को काम में लेना पड़ेगा जिससे वे आपस में बात कर पाए और data का आदान प्रदान कर पाएं।

API ने कंप्यूटर programming को बहुत ही आसान बना दिया है क्यूंकि इसकी बजह से एक ही code को बार बार लिखने की जरूरत नहीं होती इससे यह Programming को आसान बनाने के साथ-साथ programmers का समय भी बचा रही है जो एक बहुत ही फायदे की बात है।




API को समझने के लिए हम एक एप्लीकेशन का उदहारण लेंगे जो गूगल की API इस्तेमाल करती है User जब भी इस एप्लीकेशन को खोलता हैं यह User sing in करने के लिए Sign in with google का बटन दबाता है इसके बाद यूजर अपना ईमेल पासवर्ड डालकर कर sign in पर क्लिक करता है user के बटन दबाने पर app इन्टरनेट से कनेक्ट हो जाती है और API का इस्तेमाल करके यूजर का ईमेल व Password गूगल के सर्वर पर भेज देती है Google उस Data को authenticate करके रिक्वायर्ड जानकारी को App के पास भेज देता है और app अपना बाकी काम शुरू कर देती है।




अगर आप Programming करते हैं और अगर आपने कभी Java language में प्रोग्राम लिखें हैं तो आपने देखा होगा आपको किसी भी तरह की क्लास को इस्तेमाल करने के लिए आपको java की उस क्लास की API को import करना पड़ता है कुछ इस तरह -

import java.util.Date

import करने के बाद ही आप Date क्लास का object बना पाते है। और उसे इस्तेमाल कर पाते हैं।




API का एक Real world उदहारण -

अगर API के उदहारनो के बारे में बात करें तो कई सारे निकल कर आते हैं जिनमे से एक के बारे में हम ऊपर बात भी कर चुके हैं लेकिन अगर बात करें एक ऐसे उदहारण की जो real world से जुड़ा हुआ हो तो हमें इसके बारे में और अच्छे से समझ आएगा तो आइये जानते हैं कुछ इस तरह का ही उदहारण - मान लीजिये आप किसी रेस्टोरेंट में खाना खाने के लिए जाते हैं और बहा पर मेनू कार्ड में से आप खाने के लिए कुछ choose करते हैं अंदर वह खाना पक भी रहा है लेकिन यहाँ पर आपको वह खाना खाने के लिए अंदर से मंगाना पड़ेगा जिसके लिए आपको वेटर की जरूरत पड़ेगी जो वह खाना लाकर दे इसके लिए आप बेटर को खाना लेन के लिए बोलते हैं और बेटर आपको आपकी पसंद के अनुसार खाना लाकर देता है इस उदहारण में आप खुद को एक वह क्लाइंट एप्लीकेशन समझ सकते हैं जिसको किसी दूसरी app से data चाहिए और रेस्टोरेंट में खाना बनाने वाले chef को वह सर्वर समझ सकते हो जहाँ से क्लाइंट एप्लीकेशन को data लेना है और वेटर को API समझ सकते हो जो दोंनो के बीच में कम्युनिकेशन का जरिया है।

API के उदहारण - 


Google sign-in API - 

यह एक बहुत ही पोपुलर API है जिसको आपने बहुत सारी APPS और websites पर देखा होगा इसका इस्तेमाल दुसरे Apps या Websites पर sign in करने के लिए किया जाता है जिससे Sign in के लिए उन्हें अलग से दूसरा सिस्टम ना बनाना पड़े।

Facebook API - 

यह API भी काफी हद्द तक गूगल की sign in API की तरह ही होती है लेकिन इसमें और भी अलग-अलग Features होते हैं जिससे ज्यादा Data एक्सेस किया जा सकता है कहने का मतलब है की इसे Sign इन के अलावा और भी चीजों में use किया जाता है।

OpenGL API - 

OpenGL या Open Graphic Library एक ओपन सोर्स ग्राफ़िक्स लाइब्रेरी है जिसका इस्तेमाल करके graphics आदि डिस्प्ले कराए जाते हैं इसका इस्तेमाल android operating सिस्टम में भी किया जाता है।

Microsoft DirectX - 

यह भी OpenGL की तरह ही Graphics और मल्टीमीडिया की लाइब्रेरी या API है जिसे विंडोज Operating सिस्टम में इस्तेमाल किया जाता है।

API और security

API को लेकर काफी लोगो के दिमाग में यह बात आती है की अगर API के जरिये हमारे फ़ोन का Data सर्वर पर जा सकता है तो हमारे फ़ोन का data इससे कैसे सुरक्षित है, अगर आपके दिमाग में भी यह सवाल है तो आपको बता दूं की API के जरिये एप्लीकेशन के द्वारा बस उतना ही data भेजा जाता है जितने की जरूरत हो और सर्वर बापस भी बड बही data भेजता है जितने की हमारी app को करूरत होती है।

अगर आप किसी app में sign in with google करते हैं और अपना ईमेल और पासवर्ड डालते हैं तो सिर्फ यही data गूगल के सर्वर पर जाएगा और बहा से रिक्वायर्ड data बापस आएगा। उसी तरह से अगर आप Facebook पर पोस्ट करते हैं तो Facebook के सर्वर पर उस पोस्ट से सम्बंधित जानकारी ही जाएगी।

अब अगर बात करें API के मिसयूज की तो इसके लिए API का इस्तेमाल करने वाली हर app को एक डिफरेंट API key दी जाती है जिसके द्वारा उस app के द्वारा API के साथ की जाने वाली एक्टिविटीज को ट्रैक किया जाता है और अगर कोई गलत एक्टिविटी होती है तो उस app को API दोबारा इस्तेमाल करने से हमेशा के लिए रोक लगा दी जाती है।




API कहाँ इस्तेमाल किया जाता है।

API को प्रोग्रामिंग में लगभग हर जगह इस्तेमाल किया जाता है अब यह बिलकुल भी जरूरी नहीं है की API केवल किसी सर्वर से ही data डाउनलोड करता हो, हो सकता है किसी App को किसी स्पेशल लाइब्रेरी का Data इस्तेमाल करना है तो भी उसे API की जरूरत पड़ेगी। इसका उदहारण है OpenGL और Microsoft की DirectX लाइब्रेरी जिनका इस्तेमाल करके हम Operating system से ही कुछ data लेते हैं।

इसके अलावा अगर हमें अपनी app में लॉग इन और sign up के लिए आप्शन लगाने हैं और हमें इसके लिए अपना खुद का सर्वर नहीं बनाना है तो आप Google या दूसरी APIs को काम में ले सकते हैं।

API का Digital वर्ल्ड में बहुत ही बड़ा योगदान है इसको एक छोटी सी पोस्ट में नहीं बताया का सकता इसके लिए आपको थोडा और नॉलेज लेना होगा जिससे आप API को और बेहतर तरीके से समझ पाएं।

API के फायदे

  • Time saving & efficient - API का इस्तेमाल करने पर सारा कोड हमें लिखना नहीं पड़ता हम पहले से लिखा हुआ कोड इस्तेमाल करते हैं और यह कोड हमने बहुत ही easy और efficient तरीका देता है इस कोड को एक्सेस करने का।
  • Automation - इसमें हमें data ट्रान्सफर और receive करने के लिए काम नहीं करना पड़ता यह सारा काम API automatic ही कर देती है।
  • No need to rewrite - जैसा की हमने पहले भी जाना हमे सारा कोड फिर से लिखने की जरूरत नहीं होती हमें बस पहले से लिखे हुए कोड को एक्सेस करना होता है।


दोस्तों, इस लेख में हमने बात की API क्या है? API in Hindi के बारे में। हमें पूरी उम्मीद है की आपको हमारे द्वारा लिखा गया यह लेख पसंद आया होगा और API क्या है? इस बारे में काफी चीज़े सिखने को मिली होंगी। इस लेख को लिखने के लिए हमने काफी जगहों से जानकारी इकट्ठा की लेकिन फिर भी इसमें हमसे कोई जानकारी छूट गयी है या कुछ गलत हुआ है तो निचे कमेंट करके जरूर बताएं। और अगर आपको लगता है की इसमें कुछ ऐसी जानकारी भी है जो आपके दोस्तों के काम आ सकती है तो इसको उनके साथ भी जरूर शेयर करें जिससे उन्हें भी कुछ जानने को मिले। और इसी तरह की और भी जानकारी पाने की लिए हमें सोशल मीडिया पर भी जरूर follow करें।

इसके अलावा अगर आप किसी तरह की जरूरी जानकारी भेजना चाहते हैं तो हमारे contact us page पर जाएं।

👉 अगर आप कंप्यूटर के बारे में और भी जानना चाहते है तो आप इन सारी posts को एक बार जरूर देखें मुझे उम्मीद है की आपको इनसे काफी कुछ जानने को मिलेगा।

इस पेज का PRINT या PDF DOWNLOAD करने के लिए यहाँ क्लिक करें 👉  

Tag - API क्या है? ,  API kya hai, Application Programming interface in Hindi, What is API in computer, API ke use, computer basics

कोई टिप्पणी नहीं