Computer RAM क्या हैं? इसका क्या काम है?

Computer RAM क्या हैं? इसका क्या काम है?
Computer RAM क्या हैं? इसका क्या काम है?


हेलो दोस्तों, Computer RAM के बारे में तो आपने सुना ही होगा यह हर कंप्यूटर में होती है आज की इस पोस्ट में हम कंप्यूटर RAM के बारे में ही बात करेंगे और जानेंगे की RAM क्या हैं? कंप्यूटर RAM की पूरी जानकारी कंप्यूटर RAM के बारे में आपने पहले भी बहुत बार सुना होगा और साथ ही इसके अलावा इसके बारे में और भी कई सारी बाते सुनी जैसे RAM ज्यादा होने पर computer की स्पीड बड जाती है और आप अपने कंप्यूटर में बस एक सॉफ्टवेयर इनस्टॉल करेंगे तो आपको एक्स्ट्रा RAM खरीदने की जरूरत नहीं रहेगी आदि तो आज हम इन सभी बातो के बारे में जानेंगे इसके साथ ही हम DDR1, DDR2, DDR3 और DDR4 RAM में अंतर भी जानेंगे। तो आइये सबसे पहले इसकी definition जानते है।


RAM क्या हैं? What is RAM?

RAM kya hai?
RAM kya hai?


जब भी हम कोई नया device जैसे लैपटॉप, डेस्कटॉप या मोबाइल लेते है तो हम पहले उसके RAM के बारे में जरूर पूछते हैं क्यूंकि RAM हमारे devices का एक बहुत ही ख़ास हार्डवेयर होता है RAM के बिना इनका चलना नामुमकिन है। RAM हमारे कंप्यूटर या device की main या primary मेमोरी को कहा जाता है इसको हम Random Access Memory भी कहते हैं। RAM हमारे कंप्यूटर की याददास्त होती है जब हम कभी भी कोई भी सॉफ्टवेयर हमारे कंप्यूटर में run करते हैं तो उसकी जरूरी फाइल्स सबसे पहले RAM यानी प्राइमरी मेमोरी में लोड होती है उसके बाद उन्हें RAM CPU यानी प्रोसेसर के पास भेजता है हमारे कंप्यूटर की फाइल्स यू तो हार्डडिस्क में स्टोर होती है लेकिन वे डायरेक्टली हार्डडिस्क से एक्सीक्यूट नहीं हो सकती क्यूंकि हार्डडिस्क की स्पीड बहुत स्लो होती है।

इसलिए जिस भी सॉफ्टवेयर को हम ओपन करते है वह प्रोसेस होने के लिए पहले RAM में कॉपी होता है और तब तक रहता है जब तक की उसको हम क्लोज नहीं करते। RAM प्रोसेसर से डायरेक्टली जुदा रहता है इसलिए वह RAM से डायरेक्ट कम्यूनिकेट कर पाता है। बाकी स्टोरेज devices जैसे हार्डडिस्क, फ्लॉपी आदि की स्पीड प्रोसेसर के मुकाबले काफी कम होती है इसलिए यह इससे डायरेक्ट कम्यूनिकेट करने के योग्य नहीं है।

Primary Memory क्या है?



Basically कंप्यूटर में तीन प्रकार की मेमोरी होती है Primary Memory, Secondry Memory और cache memory जिनके अपने अलग अलग काम है फिलहाल हम बात करेंगे Primary memory के बारे में और जानेंगे। दोस्तों, Primary Memory को हम कभी-कभी main memory भी कहते हैं यह वो मेमोरी होती है जो CPU यानी माइक्रोप्रोसेसर से सीधे जुडी रहती है इसमें बही डाटा रहता है जिसको हमें अभी इस्तेमाल करना रहता है और Main memory या Primary मेमोरी के दो टाइप्स होते हैं पहला RAM जिसके बारे में हम अभी बात कर रहे है और दूसरा ROM जिसका मतलब होता है Read-only memory जैसा की इसके नाम से ही पता चल रहा है की यह एक read-only memory होती है जिसके डाटा को केवल पड़ा जा सकता है लेकिन इसमें दूसरा डाटा लिखा नहीं जा सकता। Primary memory secondry memory के मुकाबले काफी तेज होती है इसलिए यह CPU से डायरेक्ट जुड़कर काम करती है जबकि secondry memory CPU से डायरेक्ट कम्यूनिकेट नहीं करती।


RAM के टाइप्स और Version


RAM के टाइप्स


दोस्तों, हर चीज़ के अलग-अलग टाइप होते हैं जिससे की हम उसे हर जगहों पर अपनी जरूरत के अनुसार इस्प्तेमाल कर सकें इसी तरह RAM के भी कुछ टाइप्स होते हैं आइये इनके बारे में बिस्तार से जानते हैं।


SRAM क्या है?


दोस्तों, SRAM का पूरा नाम है Static Random Access Memory यह RAM का एक प्रकार होता है यह कुछ Transistors और IC यानी integrated सर्किट्स या Chips से बनी होती है यह Dynamic memory के मुकावले ज्यादा स्टेबल होती है और यह डायनामिक मेमोरी के मुकावले कम पॉवर यानी बिजली लेती है लेकिन इसको बनाने की cost भी बहुत ज्यादा है। लेकिन इसकी अपनी ही कुछ ख़ास बाते हैं जैसे यह काम बहुत तेज़ करती है इसको कम power या electricity की जरूरत होती है यह ज्यादा समय तक चलती है। महेंगी होने के कारण SRAM का उपयोग ज्यादातर cache मेमोरी के रूप में किये जाता है इसीलिए cache memory की speed बहुत तेज़ होती है।

DRAM क्या है?



DRAM यानी Dynamic Random Access Memory यह SRAM से कम efficient है इसको रिफ्रेश करने के लिए हमें ज्यादा पॉवर और electricity की जरूरत होती है इसमें DRAM कैपीसिटर और ट्रांजिस्टर से बना होता है इसका इस्तेमाल System मेमोरी के रूप में इस्तेमाल किया जाता है यह SRAM के मुकावले कम स्टेबल रहता है यानी इसमें डाटा कम समय तक बना रह सकता है। यह SRAM के मुकाबले काफी सस्ता होता है इसका उपयोग हम नार्मल RAM यानी System memory के रूप में इस्तेमाल करते हैं।


RAM के version और बर्गीकरण


फिलहाल हम DRAM की ही बात करेंगे क्यूंकि हम सामान्य भाषा में इसे ही RAM बोलते है इसके भी कुछ टाइप्स होते है जिनमे से एक जिसे हम इस्तेमाल करते है उसे SDRAM कहा जाता है यानी Synchronous Dynamic Random Access Memory कहा जाता है यह data transfer के rate के हिसाब से तीन प्रकार की होती है।

SDR - Single Data Rate


SDR यानी सिंगल डाटा रेट इस प्रकार की मेमोरी को कहते है जो एक क्लॉक Cycle में single word data ही ट्रान्सफर कर पाता है यानी जब RAM cpu से एक बार कनेक्ट होता है तो बस थोडा सा ही डाटा ले जा पाता है इसलिए इसे SDR कहते है।

DDR -  Double Data Rate


DDR यानी डबल डाटा रेट ऐसी मेमोरी को कहते है जिसमे एक क्लॉक cycle में SDR RAM के मुकावले दोगुना डाटा ट्रान्सफर होता है सामान्यतः हम DDR मेमोरी का ही इस्तेमाल करते हैं क्यूंकि यह काफी efficient होती है और ज्यादा मेहेंगी भी नहीं होती इसके मार्किट में कुछ version भी उपलब्ध है जीनके बारे में हम अभी बात करेंगे।

DDR1

यह DDR यानी Double Data Rate मेमोरी का पहला वर्शन था जो आजकल देखने को नहीं मिलता यह पहले इस्तेमाल किया जाता था RAM की स्पीड को MHz में मापा जाता है। DDR1 की स्पीड 300 MHz से 700 MHz तक हुआ करती थी।


DDR2

यह DDR RAM का दूसरा वर्शन था यह हमें आजकल भी काफी मात्रा में देखने को मिल जाते हैं। इसकी स्पीड 700 से 1066 MHz तक होती है।

DDR3

यह DDR मेमोरी का तीसरा वर्शन है और आजकल सबसे ज्यादा इसे ही इस्तेमाल किया जाता है क्यूंकि DDR4 RAM को आए हुए काफी ज्यादा समय नहीं हुआ है DDR3 RAM की स्पीड 1066 MHz से 1600 MHz तक रहती है।

DDR4

DDR4 DDR RAM का सबसे लेटेस्ट वर्शन है जो अभी हाल ही में आया है यह बाकी वर्शन के मुकाबले काफी फ़ास्ट रिलाएबल और efficient है लेकिन साथ ही थोडा मेहेंगा भी है इसकी स्पीड 1600 MHz से 2150 MHz तक होती है।




QDR

QDR का मतलब होता हा Quad Data Rate यह मेमोरी एक clock cycle में DDR से दो गुना और SDR से चार गुना ज्यादा डाटा ट्रान्सफर कर सकती है यह एक क्लॉक cycle में chaar word transfer कर सकती है यह काफी तेज़ होती है लेकिन काफी मेहेंगी होने के कारण इसका उपयोग नहीं किया जाता।

RAM क्या काम करता है?

RAM kya karta hai
RAM kya karta hai

दोस्तों, जैसा की आप जानते ही है की आपका सारा डाटा आपके कंप्यूटर की हार्डडिस्क के अंदर रखा होता लेकिन जब भी आप अपने कंप्यूटर में कोई सॉफ्टवेयर ओपन करते हैं तो वह सबसे पहले RAM में लोड होता है या फिर यु कहें जिस भी सॉफ्टवेयर को आप चला रहे होते है वह RAM में ही होता है।


आप जब भी कंप्यूटर को स्टार्ट करते हैं तो सबसे पहले आपके ऑपरेटिंग सिस्टम की जरूरी फाइल्स RAM में लोड होती हैं ताकि वह CPU से सीधे कम्यूनिकेट कर पाएं Secondry मेमोरी की स्पीड काफी स्लो होती है जिस कारण से वह CPU से सिंक्रोनाइज नहीं कर पाती इसीलिए हम बीच में एक जरूरी माध्यम RAM का इस्तेमाल करते हैं यह clock cycles के जरिये जल्दी जल्दी डाटा भेजता है इस डाटा रेट को MHz यानी mega hertz में मापा जाता है जहाँ 1 mega-hertz यानी एक second में 1000000 clock cycle होते हैं।

क्यूंकि RAM हमारी harddisk और अन्य secondry मेमोरी की तुलना में काफी मेहेंगी होती है इसीलिए इसका उपयोग कम मात्रा में किया जाता है।

Conclusion


दोस्तों, हमने आज Computer RAM क्या हैं इस बारे में काफी कुछ जाना और साथ ही यह भी जाना की इसका क्या काम है इसके बाद हमने RAM के कुछ टाइप्स के बारे में जाना और इसके कुछ versions और बर्गीकरण भी जाने लेकिन अभी भी कुछ लोगो को यह confusion होगी की ज्यादा RAM बराबर ज्यादा तेज़ स्पीड होती है इस confusion का जवाब हाँ भी है और नहीं भी क्यूंकि इसकी कुछ कंडीशन होतीं है जैसे अगर आपके पास एक single core computer है जिसकी clock स्पीड है 800MHz लेकिन अगर आप इसमें आप एक बार 300 MHz की speed वाली 2GB RAM इस्तेमाल करते हैं और दूसरी बार इसी में आप 800MHz की एक GB RAM ही इस्तेमाल कर रहें है तो आपकी जो 800MHz वाली 1GB RAM के साथ आपका कंप्यूटर ज्यादा अच्छी स्पीड देगा क्यूंकि वह CPU से अच्छे से sync हो पाएगा इसके अलावा और भी चीज़े जरूरी होती है यह तो बस एक बेसिक चीज़ है।

👉 हमारी टीम के द्वारा बनाए गए कुछ कोर्सेस

दोस्तों, उम्मीद करता हूँ की आपको मेरे द्वारा दी गयी यह छोटी से जानकारी Computer RAM क्या हैं? इसका क्या काम है? पसंद आई होगी और Random Access Memory और इसके versions के बारे में काफी कुछ जान्ने को मिला होगा अगर आपको यह पोस्ट और इसमें दी गयी जानकारी सच में पसंद आई है तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें जिससे उन्हें भी कुछ जानने को मिले। और अगर आप इसी तरह की
जानकारी और भी चाहिए तो हमें हमारे social media एकाउंट्स पर फॉलो जरूर करें जिससे आप हमारे द्वारा डाली गयी लेटेस्ट पोस्ट को सबसे पहले पड़ पाएं।

इसके अलावा कमेंट करके अपने सवाल और सुझाव जरूर बताएँ उन्हें जानकर और उनका जवाब देकर मुझे बहुत ख़ुशी 😊 होगी।


Tags - RAM क्या हैं? कंप्यूटर RAM की पूरी जानकारी, computer ram hindi, रेम क्या है, ram memory in hindi, ram kya karta hai, computer basics



👉 अगर आप कंप्यूटर के बारे में और भी जानना चाहते है तो आप इन सारी posts को एक बार जरूर देखें मुझे उम्मीद है की आपको इनसे काफी कुछ जानने को मिलेगा।

कोई टिप्पणी नहीं